Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views :

10 Radish Health Benefits – मूली खाने के फायदे

/
/
738 Views

10 Radish Health Benefits / 10 मूली खाने के फायदे

Radish ke Fayde – मूली (Mooli) खाने के अनेको फायदे है। उन फायदों के बारे में आगे इस पोस्ट में जानेंगे। Mooli का वैज्ञानिक नाम Brassicaceae है। मूली एक बेहतरीन और फायदेमंद सब्जी है। प्राचीन काल से मूली का उपयोग होते आ रहा है। संस्कृत के “मूल” शब्द से “मूली” का निर्माण हुआ है। यह सेहत के लिए काफी गुणकारी है।

Radish Health Benefits रेडिश में आयोडीन, कैल्शियम, गंधक, सोडियम, क्लोरिन, आयरन और मैग्नीशियम इत्यादि मौजूद होता है। इसमें विटामिन ए, बी और सी भी पाया जाता है। मूली तो फायदेमंद है ही उसके साथ साथ इसके पत्ते भी काफी फायदेमंद है। अगर आपको पाचन से जुड़ी समस्या है, तो इसका सेवन जरुर करे। ज्यादातर मूली का इस्तेमाल सलाद के रूप में किया जाता है। आगे जानेंगे मूली खाने के फायदे के बारे में।

इसे जरुर पढ़े :- शीघ्रपतन का घरेलु उपचार

10 Mooli ke Achuk Fayde | 10 फायदे मूली खाने के


Benefits of Radish (Muli) – मूली खाने के फायदे

Muli ke fayde मूली को अंग्रेजी में Radish” कहा जाता है। यह मूत्र और पेट विकार के लिए अचूक दवा है। कई लोगो को मूली खाना पसंद नहीं है। क्यूंकि इसे खाने के बाद मुंह से गंध आने लगती है। यह जमीन के अंदर उगने वाली सब्जी है। इस Vegetable के सेवन करने से, यह शरीर में ओक्सिजन प्रदान करती है और कार्बन डाई ऑक्साइड जैसी खतरनाक गैस शरीर से बाहर निकलने का काम करती है।

10 Radish Health Benefits - मूली खाने के फायदे

1. मूली द्वारा मूत्र विकार का ईलाज

जिन लोगो को मूत्र विकार यानी पेशाब होने में परेशानी की समस्या है। उन लोगो को Mooli का सेवन अवश्य करना चाहिए। मूली का रस पीने से या मूली खाने से आपको आराम मिलेगा। पेशाब में होने वाली दिक्कत जैसे – पेशाब में जलन का महशुश होना, मूत्र न आना इत्यादि समस्या से छुटकारा मिलेगा।

2. मूली के फायदे पथरी की समस्या में

पथरी की समस्या से पीड़ित व्यक्ति को मूली / Muli का सेवन करना चाहिए। मूली के पत्ते का रस निकाल ले। अब उसमे जोखार और अजमोद का चूर्ण मिला ले। अब इस मिश्रण का सेवन करे। ऐसा करने से गुर्दे की पथरी गल जाती है।

3. मूली त्वचा के लिए फायदेमंद है

शायद आपको नहीं पता होगा की मूली एक बेहतरीन सौन्दर्य वर्धक भी है। इसके सेवन रोजाना करने से, यह चेहरे की खुश्की को दूर कर देता है। मूली का इस्तेमाल करे और त्वचा के रोग जैसे – कील, मुहासे, खुश्क त्वचा और झुरिया इत्यादि को दूर करे। सुबह सुबह खाली पेट मूली का सेवन करे। इसके अलावा आप मूली के पत्ते का लेप अपनी स्किन पर लगाये। आपको फायदा होगा।

यह भी अवश्य पढ़े :- मुंहासे का घरेलु इलाज की जानकारी हिंदी में।
इसे भी अवश्य पढ़े :- त्वचा की देखभाल के बेहतरीन उपाय की जानकारी हिंदी में।

4. गले की समस्या में, रेडिश के फायदे

गले से जुड़ी कई तरह की बीमारियाँ होती है। मूली के इस्तेमाल से आप अपनी गले की समस्या को दूर कर सकते है। गले में सुजन होने पर मूली का पानी ले। अब उसमे सेंधा नमक मिलाकर गर्म करे। उसके बाद गुनगुने पानी से गर्गिल करे। आपको लाभ मिलेगा।

यह भी जरुर पढ़े : गर्म पानी पीने के अनोखे लाभ और फायदे।

5. मूली के फायदे कब्ज़ की समस्या में

अगर आपको कब्ज़ की समस्या है, तो मूली को अपने आहार में शामिल जरुर करे। सलाद के रूप में मूली को अपने भोजन में ले। इसके अलावा मूली पर निम्बू लगाकर सुबह-सुबह सेवन करे। आप चाहे तो मूली के रस में निम्बू और अदरक का रस मिलाकर पिये। पेट से जुड़ी रोगों से राहत मिलेगी। ऐसा करने से भूख भी बढ़ेगी।

इसे भी जरुर पढ़े : कब्ज की बीमारी का आयुर्वेदिक उपचार हिंदी में।

6. कान दर्द में मूली राहत दिलाता है

Radish के द्वारा कान में होने वाले दर्द का आप ईलाज कर सकते है। सबसे पहले मूली का रस निकाल ले लगभग चार चम्मच। अब मूली / Muli के रस में तिल का तेल एक चम्मच मिला ले। अब इस मिश्रण को धीमी आंच पर लगभग 5 मिनट तक गर्म करे। अब इसे छान कर रख ले। दिन में तिन बार इस तेल उपयोग करे। आपको लाभ मिलेगा।

यह भी जरुर पढ़े :- लहसून के अद्भुत फायदे

7. मूली के जरीय, दांतों की समस्या का ईलाज

Mooli ke fayde मूली दांतों के पीलापन को दूर कर सकता है। सबसे पहले मूली का टुकड़ा ले और उसमे निम्बू का रस लगाये। अब इसे धीरे-धीरे दांतों पर मले। इससे आपके दांत साफ़ और चमकदार हो जायेंगे। जो व्यक्ति पायरिया की समस्या से परेशान है। उन लोगो को Mooli ke Ras से कुल्ला करना चाहिए। ऐसा करने से दांत और मसूड़े दोनों स्वस्थ रहेंगे।

यह भी अवश्य पढ़े : दांत दर्द का घरेलु इलाज की जानकारी हिंदी में।

8. मूली ब्लड प्रेशर को सही रखता है



मूली का सेवन ब्लड प्रेशर के लिए काफी फायदेमंद है। जिन लोगो को ब्लड प्रेशर की शिकायत है, उन लोगो को अपने आहार में Mooli को शामिल करना चाहिए। इसमें एंटी हाइपरटेंसिव होता है, जो ब्लड प्रेशर के लेवल को नियंत्रित करता है।

इसे भी अवश्य पढ़े : हाई ब्लड प्रेशर का घरेलु उपचार हिंदी में।

9. मूली के फायदे जुकाम और खांसी में

Radish Health Benefits in Hindi रोजाना मूली का सेवन करने से आपकी इम्यून शक्ति बढेगी। इससे आपको सर्दी और जुकाम की समस्या नहीं होगी। इसके इस्तेमाल से खांसी की समस्या से भी छुटकारा पाया जा सकता है। सबसे पहले सुखी मूली का काढ़ा तैयार कर ले। अब उसमे नामक और जीरा मिलाकर काढ़े का सेवन करे। यह विधि आपको दमे की बीमारी में भी फायदा होगा।

इसे भी जरुर पढ़े : एलोवेरा के बेहतरीन फायदे

10. मूली आँखों के लिए भी फायदेमंद है

Benefits of Radish (Muli) in Hindi मूली आँखों के अत्यंत लाभकारी है। इसमें विटामिन ए प्रचुर मात्रा में होता है। मूली का रोजाना सेवन करने से, यह आँखों की रोशनी को बढाता है।

मूली के अन्य फायदे / Mooli ke anya fayde


मूली खाने से यह पेट के कीड़े ख़त्म करता है।

 मूली की पत्तियां मुंह की बदबू को दूर करती है।

 मधुमेह की बीमारी में मूली फायदेमंद है।

 दमा की बीमारी में मूली का इस्तेमाल करे।

 जिन्हें भूख नहीं लगती है, उन लोगो को मूली का सेवन करना चाहिए।

Radish ke fayde | मुली के बेहतरीन फायदे | Muli ke Fayde

इसे भी जरुर पढ़े :-

loading…

radish health benefits, white radish recipe, radish plant, muli ke fayde, मूली के फायदे, radish varieties,

उम्मीद है की, आपको यह लेख उपयोगी लगा होगा। प्लीज इस लेख को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे। निचे दिए गए बटन को दबाकर अपने ट्वीटर, फेसबुक और गूगल प्लस अकाउंट पर शेयर करे।

एक निवेदन – इस ब्लॉग में दिए गए सभी Health tips in Hindi, Beauty tips in Hindi, Skin Care tips in Hindi, Ayurvedic Treatment, Gharelu Nuskhe, Home Remedies, Healthy Food in Hindi, और Homeopathy इत्यादि लेख को, लोगो के अनुभव के आधार पर तैयार किया गया है। किसी भी रोग में इन उपायों को अजमाने से पहले चिकित्सक (Doctor) की सलाह जरुर लें। ऊपर बताये गए उपाय और नुस्खे को अपने विवेक के आधार पर इस्तेमाल करें। कोई असुविधा होने पर इस ब्लॉग www.hindiayurveda.com की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी।

|धन्यवाद|

  • Facebook
  • Twitter
  • Google+
  • Linkedin
  • Pinterest
error: Content is protected !!