Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views :

Ashwagandha Benefits in Hindi – अश्वगंधा के फायदे हिंदी में

/
/
320 Views

Ashwagandha Benefits in Hindi आज इस लेख में अश्वगंधा के फायदे के बारें में जानेंगे। यह अपने चमत्कारी गुणों की वजह से प्रसिद्ध है। अश्वगंधा एक तरह का पौधा है। इसका उपयोग सैकड़ों साल से दवा के रूप होता आ रहा है। आयुर्वेद के साथ-साथ चीनी पारम्परिक चिकित्सा में भी इसका उपयोग किया गया है। यह एक बेहतरीन औषधि है। कई तरह की बिमारियों को दूर करने में अश्वगंधा का इस्तेमाल किया जाता है। इसका उपयोग शक्तिवर्धक दवा बनाने के लिए भी किया जाता है।

अश्वगंधा के जड़ों और पत्तों से घोड़े की पसीने अथवा मूत्र की गंध आती है, जिसकी वजह से इसका नाम अश्वगंधा पड़ा।

Benefits of Ashwagandha in Hindi / Urdu – अश्वगंधा को संजीवनी बूटी कहना गलत नहीं होगा। भारत के कई जगहों पर अश्वगंधा को भारतीय गिनसेंग के नाम से भी जाना जाता है। यह एक ऐसा पौधा है। जो निम्न और उच्च दोनों तरह के तापमान में पनप सकता है। यह सोलेनेसी परिवार का पौधा है। समस्त विश्व में देख जाये तो, सोलेनेसी कुल के लगभग 3000 जातियां पाई जाती है। भारत में सिर्फ 2 ही जातियां पाई जाती है। अश्वगंधा के पौधे झाड़ीनुमा होते है। इसकी लम्बाई लगभग 1.25 मीटर होती है।


Ashwagandha Benefits in Hindi इस पौधे के लिए अधिक सिंचाई की आवश्यकता नहीं होती है। क्यूँकी यह वर्षा ऋतु का पौधा है। अश्वगंधा की खेती भारत के विभिन्न भागों में की जाती है। जैसे – उत्तर प्रदेश, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान और मध्य प्रदेश इत्यादि। यह सेक्स दुर्बलता को भी दूर करने का काम करता है। उसके साथ-साथ कई प्रकार की बिमारियों में भी सटीक दवा है। तो चलिए जानते है “अश्वगंधा के बेहतरीन फायदे और उसके गुण” के बारे में।

Ashwagandha Benefits in Hindi

Ashwagandha Benefits in Hindi – अश्वगंधा के फायदे हिंदी में

उम्मीद है की, आपको यह लेख उपयोगी लगा होगा। प्लीज इस लेख को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे। निचे दिए गए बटन को दबाकर अपने ट्वीटर, फेसबुक और गूगल प्लस अकाउंट पर शेयर करे।

एक निवेदन – इस ब्लॉग में दिए गए सभी Health tips in Hindi, Beauty tips in Hindi, Skin Care tips in Hindi, Ayurvedic Treatment, Gharelu Nuskhe, Home Remedies, Healthy Food in Hindi, और Homeopathy इत्यादि लेख को, लोगो के अनुभव के आधार पर तैयार किया गया है। किसी भी रोग में इन उपायों को अजमाने से पहले चिकित्सक (Doctor) की सलाह जरुर लें। ऊपर बताये गए उपाय और नुस्खे को अपने विवेक के आधार पर इस्तेमाल करें। कोई असुविधा होने पर इस ब्लॉग www.hindiayurveda.com की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी।

|धन्यवाद|

  • Facebook
  • Twitter
  • Google+
  • Linkedin
  • Pinterest
error: Content is protected !!