Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views :

Banyan Tree ke Fayde | बरगद के बेहतरीन फायदे

/
/
1812 Views

Banyan Tree Benefits in Hindi – बरगद का पेड़ हिन्दू धर्म में बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। इसलिए बरगद के पेड़ / Bargad Tree की पूजा की जाती है। ‘बरगद’ / Bargad भारत का राष्ट्रीय पेड़ है, इसे वट वृक्ष भी कहा जाता है। बरगद का पेड़ अपनी टहनीयो के कारन जाना जाता है। बरगद की अपनी टहनियों से बहुत सारी  लटकती जड़ो के कारन ये जल्द ही बहुत बड़े और विशालकाय हो जाते है।

Bargad ke Fayde – इसका तना सीधा और कटोर होता है। इसका फल छोटा गोलाकार एवं लाल होता है बरगद के बीज छोटे होते है लेकिन इसका पेड़ बहुत ही विसलकाए होता है और इसकी पत्तियाँ चोडी एवं हरी होती है। इसकी पत्तियाँ लगभग अंडाकार होती है। 

Banyan Tree Benefits in Hindi / Bargad ka Ped


Banyan Tree Benefits in Hindi – बरगद के पेड के पत्ते और जड़ का उपयोग विभिन्न तरह की बीमारियों में किए जाता है जैसे डायबिटीज पिम्पल सर्दी जुकाम स्किन के रोग चोट लगने पर फटी एड़ी दस्त में कमर दर्द में स्तन (वक्ष) का ढीलापन योनशक्ति  बड़ाने में अदि रोगों में बरगद का पेड़ बहुत लाभकारी है। तो आइये विस्तार से जानते है इसके फायेदे।

banyan tree Bargad benefits in Hindi

बरगद से विभिन्न बीमारियों में आयुर्वेदिक  उपचार

loading…

Banyan Tree Benefits in Hindi – बरगद बहुत ही गुणकारी पेड़ है बरगद का उपयोग बहुत सी बीमारियों में किया जाता है। इसका आयुर्वेदिक उपचार में प्रोयोग किया जाता है। Bargad ke Ped / बरगद के पेड़ की पत्तियाँ, तना, आदि को तोड़ने पर इससे दूध जैसा पदार्थ निकलता है जिसे लेटेक्स कहा जाता है।

बरगद के फायदे, सभी प्रकार  के दस्त (हरा या पिला )में

Loose Motion या दस्त में सभी उम्र के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। खासकर अगर दस्त की समस्या बच्चो में होती है, तो और भी परेशानी हो जाती है। लेकिन आप बरगद के पेड़ / Banyan Tree के द्वारा इस बीमारी का इलाज कर सकते है।

1. बच्चो को नाभि में बरगद का दूध की कुछ बूँद लगाये।

2. बतासे में दूध की कुछ बूँद डालकर दिन में 2-3 बार खिलने से शिग्र ही लाभ मिलता है।

बरगद के फायदे कमर दर्द में



Banyan Tree ke Fayde – कमर दर्द एक गंभीर समस्या है। यह रोग खासकर बुजर्गो में देखा जाता है। वैसे कमर दर्द की बीमारी किसी भी उम्र में हो सकती है। आप बरगद के पेड़ / Banyan Tree की मदद से, कमर दर्द ठीक किया जा सकता है।

1. बरगद का दूध अलसी के तेल में मिलाकर मालिश करने से लाभ मिलता है।

2. Banyan Tree / बरगद का दूध कमर में  दिन में तिन बार मालिश करने से भी कुछ दिनों में फायदा होता है।

बरगद के फायदे फटी एडियां में

Banyan Tree ke Fayde – जैसा की आपको पता है, की महिलाओ में एडियों को लेकर कितनी चिंता रहती है। फटी एडियों आपके व्यक्तित्व के लिए अच्छा नहीं है। फटी एड़ी के कारण अपने पैर को छुपाना पड़ता है। आपको शर्मिंदगी का सामना करना पड़ सकता है। आप बरगद के दूध का इस्तेमाल करके अपनी फटी एडियाँ को ठीक कर सकते है।

1. फटी एडियों में बरगद का दूध से मालिश करते रहने से कुछ दिनों में लाभ होता है।

बरगद के फायदे चोट लगने पर

Banyan Tree ke Fayde – चोट लगाना आम बात है। अगर आपके घर में किसी को चोट लगी ही, तो बरगद आपके लिए लाभदायक साबित होगा। बरगद / Bargad का दूध बहुत से रोगों को ठीक करता है।

1. सूजन चोट या मोच सभी में बरगद का दूध लाभकारी होता है दिन में तीन  बार मालिश करने से फायेदा होता है।

बरगद के फायदे यौनशक्ति बढाने  के लिए

Banyan Tree Benefits in Hindi – बरगद के पेड / Banyan Tree के पत्ते और जड़ का उपयोग विभिन्न तरह की बीमारियों में किए जाता है जैसे डायबिटीज पिम्पल सर्दी जुकाम स्किन के रोग चोट लगने पर फटी एड़ी दस्त में कमर दर्द में स्तन (वक्ष) का ढीलापन योनशक्ति  बड़ाने में अदि रोगों में बरगद का पेड़ बहुत लाभकारी है। तो आइये विस्तार से जानते है इसके फायेदे।



Banyan Tree / बरगद के पेड़ के पके हुए फल को छाया में सुखा ले और उसका चूर्ण बना ले और बराबर मात्रा में मिश्री के साथ मिलकर पिस ले और इसे सुबह खली पेट और रात एक कप दूध के साथ सोने से पहले ले कुछ दिनों में आपकी यौनशक्ति में फायदा होगा।

बरगद के फायदे सर्दी और जुकाम में

Banyan Tree Benefits in Hindi – बरगद  / Bargad एक अच्छा रोग प्रतिरोधक विकल्प है बरगद के पत्ते को सुखा कर महीन पीस ले और लगभग आधा लीटर पानी में एक चम्मच पत्ते का चूर्ण मिलाकर उबाल ले। जब एक चोथाई पानी बच जाये  तब छान ले  और उसमे मिश्री मिला ले। अब इसे पिए आपको लाभ मिलेगा।

बरगद डायरिया से भी बचाता है

Banyan Tree ke Fayde – बरगद के पत्ते से पेचिश गैस डायरिया और पेट में जलन में लाभ पहुचता है इसके पत्ते और हरे धनिया के पत्तो के साथ गुड को मिला कर चबाने से डायरिया में लाभ होता है।

बरगद के फायदे बढती उम्र के लिए

Loading…


Banyan Tree Benefits in Hindi – एंटी ऑक्सीडेंट के गुण बरगद के पेड़ की जड़ो में अधिक मात्रा पाया जाता है। इसके लिए आप ताजी जड़ो के रस को आप झुरिया और अपने स्किन पर लगा सकते है।

उम्मीद है की, आपको यह लेख उपयोगी लगा होगा। प्लीज इस लेख को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे। निचे दिए गए बटन को दबाकर अपने ट्वीटर, फेसबुक और गूगल प्लस अकाउंट पर शेयर करे।

यह भी अवश्य पढ़े :

एक निवेदन – इस ब्लॉग में दिए गए सभी Health tips in Hindi, Beauty tips in Hindi, Skin Care tips in Hindi, Ayurvedic Treatment, Gharelu Nuskhe, Home Remedies, Healthy Food in Hindi, और Homeopathy इत्यादि लेख को, लोगो के अनुभव के आधार पर तैयार किया गया है। किसी भी रोग में इन उपायों को अजमाने से पहले चिकित्सक (Doctor) की सलाह जरुर लें। ऊपर बताये गए उपाय और नुस्खे को अपने विवेक के आधार पर इस्तेमाल करें। कोई असुविधा होने पर इस ब्लॉग www.hindiayurveda.com की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी।

|धन्यवाद|

  • Facebook
  • Twitter
  • Google+
  • Linkedin
  • Pinterest
error: Content is protected !!