Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views :

Cancer Disease Treatment in Hindi | कैंसर के लक्षण और उपचार

/
/
252 Views

Natural Cure for Cancer Disease in Hindi / Urdu

Cancer Disease Treament कैंसर एक बड़ी और खतरनाक रोग है। यह भारत में ही नहीं बल्कि पुरे विश्व में तेजी से बढ़ रहा है। एक अनुमान के मुताबिक लगभग 20 लाख लोगों की हर साल मृत्यु हो रही है। शरीर के किस हिस्से में कैंसर हुआ है। इसका पता काफी देर से लगता है। मेडिकल साइंस में भी इस रोग का सटीक उपचार उपलब्ध नहीं है। कैंसर रोगी को डॉक्टर जो ट्रीटमेंट देते कारगर नहीं है। इन इलाज की वजह से मरीज के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता ख़त्म हो जाती है।



मेडिकल साइंस में Cancer Disease के लिए रेडियोथेरेपी (Radiotherapy), कोबाल्टथेरेपी (Cobalt Therapy) और कीमोथेरेपी (Chemotherapy) से ईलाज किया जाता है। इस तरह के ईलाज का खर्च भी काफी महंगा होता है। कीमोथेरेपी के द्वारा Cancer के Cell को मारने का दावा डॉक्टर करते है। लेकिन उसके साथ-साथ शरीर के अच्छे कोशिका भी मर जाती है।



Cancer Disease Treament कई बार ऐसा भी देखने को मिला है, की कीमोथेरेपी से भी Cancer Cell पूरी तरह से ख़त्म नहीं होते है। इनकी संख्या भीतर ही भीतर बढती रहती है। इसी वजह से कैंसर दोबारा हो जाता है। शरीर के जिस हिस्से में कैंसर था, वो तो बना ही रहता है। इसके अलावा शरीर के अन्य भाग में भी Cancer Disease होने की सम्भावना बढ़ जाती है। इससे आपका शरीर दो प्रकार के कैंसर का शिकार बन जाती है। इसे ही मेटास्टेटिक कहते है।

मेटास्टेटिक से कहने का तात्पर्य यह है की, जब Cancer Cell रक्त में मिलकर शरीर के दुसरे भाग में फ़ैल जाती है।

Cancer Disease Causes / कैंसर के कारण / Cancer ke karan

Cancer Disease शरीर के अलग-अलग भाग में कैंसर का रोग होता है। इस रोग के होने के कारण भी अलग-अलग होते है।

cancer disease

  • रीफ़ाईन तेल से इस्तेमाल करना।
  • नशीले पदार्थ जैसे – गुटका, तम्बाकू, पान मशाला, सिगरेट, बीडी और शराब का सेवन करना।
  • HIV और Hepatitis B के virus के कारन।
  • मोटापा भी एक कारन हो सकता है।
  • महिलाओं में स्तनपान न कराने के कारन।
  • गर्व निरोधक दवा को लम्बे वक्त तक लेने के कारन

Cancer Symptoms in Hindi / Urdu



  • हमेशा कमर दर्द का बना रहना।
  • मूत्र एवं शौच करने की आदत में बदलाव आना।
  • लगातार खांसी आना और आवाज का बैठ जाना।
  • देखने और सुनने में दिक्कत महशुश होना।
  • सिर में दर्द का होना।
  • मुंह का सुकड़ना और मुंह का पूरी तरह से न खुलना।
  • किसी अंग में गांठ का बना होना।
  • खून की कमी की बीमारी का होना।

Note : यह लक्षण अन्य रोगों के कारण भी हो सकते है। लेकिन अगर इनमे से कोई भी लक्षण 15 दिनों से अधिक वक्त तक हो। तो चिकित्सक से तुरंत परामर्श ले।

Cure for Cancer in Hindi / Urdu



कैंसर रोग का घरेलु उपाय – Cancer ka gharelu upchar

1. Cancer Disease ka gharelu upchar हल्दी के द्वारा कैंसर रोग से छुटकारा मिल सकता है। इसमें कैंसर की बीमारी को ठीक करने की ताकत है। हल्दी में कुर्कमिन (Carcumin) नामक तत्व पाया जाता है। यह Cancer Cell को मारने का काम करती है। हल्दी का सेवन प्रतिदिन करे।

2. Cure for Cancer Disease  हल्दी और देशी गाय का मूत्र कैंसर की बीमारी का रामबाण ईलाज है। लगभग आधा कप गोमूत्र ले। अब उसमे आधा चम्मच हल्दी मिलकर उबाल आने तक गर्म करे। फिर उसे ठंडा होने के लिए छोड़ दे। अब रोगी को चाय की तरह यानी चुस्की लेकर पीने को कहे। आपको लाभ मिलेगा।

3. Cancer Disease Treatment  इस रोग में पुनर्नवा भी फायदेमंद है। गाय का मूत्र, हल्दी और पुनर्नवा को मिलाकर रोगी को पिलाये। ऐसा करने से फायदा मिलेगा।



4. Home Remedies for Cancer Disease  महिलाओं के शरीर के किसी भी भाग में अगर गांठ हो गयी है। तो आप पान में इस्तेमाल होने वाले चुने का उपयोग कर सकते है। प्रतिदिन कनक के दाने के बराबर चुना का सेवन करे। आपको लाभ मिलेगा। ध्यान रहे पथरी के मरीज चुने का इस्तेमाल न करे।

दादी माँ के अन्य नुस्खे : Dadi maa ke gharelu nuskhe
  • 1. गेंहू के ज्वारे का रस बहुत ही फायदेमंद है।
  • 2. अनार का सेवन Breast Cancer के लिए फायदेमंद है।
  • 3. सोयाबीन का सेवन करे।
  • 4. प्रतिदिन सुबह-सुबह धुप में बैठे।
  • 5. गेंहू का आटा ले। उसके अनुपात में आधा जों का मिलाकर इसकी रोटी खाए।

इसे भी अवश्य पढ़े:

loading…

prostate cancer, breast cancer, cancer research, cervical cancer, chemotherapy, alternative cancer treatments, alternative treatment for cancer, brain cancer,

उम्मीद है की आपको यह लेख उपयोगी लगा हो। प्लीज इस लेख को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे। निचे दिए गए बटन को दबाकर अपने ट्वीटर, फेसबुक और गूगल प्लस अकाउंट पर शेयर करे।

|धन्यवाद|

  • Facebook
  • Twitter
  • Google+
  • Linkedin
  • Pinterest
error: Content is protected !!