khujli ka Ayurvedic upchar – खुजली का ईलाज

/
/
534 Views

Khujli or Itching ka Gharelu Ilaj – खुजली का घरेलु ईलाज 

Khujli (Itching) ka Desi aur Gharelu Ilaj – खुजली यानी Itching से काफी लोग परेशान रहते है। अगर आपकी त्वचा या स्किन में खुजली का अनुभव महशुश हो रहा है, तो उसे ही स्किन इचिंग / Skin Itching कहा जाता है। खुजली के कारण स्थिति यह बन जानती है की हम अपनी स्किन को नोचने पर मजबूर हो जाते है। आपको लगातार अपने शरीर को खुजलाने का मन करता हो। खुजली आपके सुन्दरता वाले व्यक्तित्व को पूरी तरह से बिगाड़ सकता है। इसलिए इसका समय रहते इलाज करना चाहिए।


Khujli ka Upchar – खुजली भी एक प्रकार की आम बीमारी है। खुजली होने के बहुत से अन्य कारण हो सकते है। इंसान की त्वचा बहुत ही सेंसिटिव (संवेदनशील) होती है, जिसके कारण जो चीज त्वचा को सूट नहीं करती है उस चीज का असर स्किन पर जल्दी करने लगता है। खुजली या इचिंग के कारण त्वचा पर लालपन आने लगता है।

यह भी पढ़े :-

Home Remedies for Khujli (Itching) in Hindi / Urdu


Khujli or Itching hone ke karan – खुजली होने के कारण

  1. मौसम के परिवर्तन के कारण खुजली हो सकता है।
  2. किसी चीज के एलर्जी के कारण खुजली / Khujli हो सकती है।
  3. त्वचा / स्किन में इन्फेक्शन के कारण खुजली होती है।
  4. किसी दवा या मेडिसिन से एलर्जी के कारण।
  5. ज्यादा तनाव के कारण।
  6. किसी कीड़े के काटने के कारण।
  7. फफूंद संक्रमण के कारण भी।
  8. गंदगी के कारण खुजली हो सकती है।
  9. ज्यादा समय तक गिला रहने के कारण।
  10. किसी साबुन, कॉस्मेटिक या परफ्यूम के कारण भी खुजली / Khujli हो सकता है।
  11. लीवर या किडनी की कोई बीमारी के कारण भी खुजली हो सकती है।

Symptoms of Itching (khujli) in Hindi – खुजली होने के लक्षण


  • खुजली या इचिंग होने पर त्वचा में हल्का लालपन आ जाता है।
  • कभी भी शरीर में खुजलाहट का होना।
  • स्किन या त्वचा पर दाना या फुंसी का निकाल आना।
  • खुजली / Khujli करने पर स्किन पर जलन का अनुभव होना।

Itching Treatment using Natural Remedies in Hindi – खुजली के घरेलु नुश्खे

Khujli or Itching ka Ayurvedi Upchar

Image Source : kadin.mynet

Khujli ka Gharelu Ilaj – खुजली वैसे तो हाथ, पांव, सिर, गुप्तांग, ऊँगली, और नाक इत्यादि पर होती है। लेकिन यह पुरे बदन (शरीर) पर भी हो सकती है। स्किन रोग विशेषज्ञ  के अनुशार खुजली का होना कोई स्वतंत्र बीमारी नहीं है। यह रोग शरीर के दुसरे रोगों की वजह से होती है। पेट में कीड़े होने की वजह से भी खुजली या इचिंग का होना संभव है।

एलोपैथी के मुताबिक खुजली के होने की वजह, माईक्रोब्स यानी अत्यंत सूक्ष्म जीवाणु के संक्रमण का होना है।

Khujli ka Upchar – खुजली या इचिंग मुख्यत एक भाग या पुरे शरीर में भी हो सकती है। वैसे तो आयुर्वेद में हर प्रकार की बीमारी का उपचार मौजूद है। आज हम इस पोस्ट में खुजली का उपचार जानेंगे। तो चलिए जानते है – Home Remedies for Itching (khujli) in Hindi / Urdu.

Home Remedies for Itching in Hindi / Urdu


 Home Remedies for Itching in Hindi – एलोवेरा एक बेहतरीन एंटीबेक्टेरिअल है। सबसे पहले एलोवेरा के पत्ते को काटकर उसके गुद्दे (जेल) को निकाल ले। उसके बाद उस गुद्दे को खुजली या इचिंग वाले भाग पर लगाये। आपको Khujli से बहुत ही आराम मिलेगा।

 Home Remedies for Itching in Hindi / Urdu – बेकिंग सोडा खुजली को ठीक करने की सबसे उत्तम दवा है। इसके इस्तेमाल से खुजली ठीक हो जाएगी और यह जलन से भी बचाती है। एक चम्मच बेकिंग सोडा ले। अब उसमे थोडा सा साफ़ पानी मिलाकर उसका पेस्ट बना ले। अब उस पेस्ट को खुजली वाले स्किन पर लगाये। कुछ देर के बाद साफ़ पानी से अच्छे से धो ले। आपको फायदा होगा। ध्यान रहे कटी त्वचा पर ना लगाये।

 Home Remedies for Itching in Hindi / Urdu – सबसे पहले पान का पत्ता ले और उसमे शुद्ध शहद लगाये। अब जहाँ खुजली हो रही है वह लगाये। ऐसा करने से आपको राहत मिलेगी। यह एक उत्तम उपाय है खुजली / Khujli को ठीक करने की।

 Home Remedies for Itching in Hindi – निम्बू का इस्तेमाल आप खुजली दूर करने के लिए कर सकते है। निम्बू एक अच्छा एंटीसेप्टिक की तरह काम करता है, क्यूंकि इसमें सिट्रिक एसिड होता है। सबसे पहले 1 या 2 निम्बू का रस निकाल ले। अब निम्बू के रस को कॉटन की सहायता से खुजली वाले त्वचा पर लगाये। थोड़ी देर सूखने के लिए छोड़ दे। उसके बाद आप गुनगुने पानी से अच्छे से साफ़ कर ले। आपको इचिंग से राहत मिलेगी। इसके अलावा आप निम्बू के रस का इस्तेमाल अलसी के तेल के साथ मिलाकर भी कर सकते है।



 Home Remedies for Itching in Hindi – तुलसी का स्थान आयुर्वेद में सबसे ऊपर है। तुलसी के प्रयोग से कई सारे रोगों को ठीक किया जा सकता है। तुलसी बहुत ही गुणकारी पौधा है। इसमें ऐसे तत्व मौजूद है जो Khujli की समस्या पल भर में ठीक कर सकती है। दो कप पानी में कुछ सुखी तुलसी की पत्तियां को डालकर उबाले। अब उस पानी को ढककर ठंडा होने के लिए छोड़ दे। जहाँ-जहाँ खुजली (Itching) हो रही है, उस जगह पर कॉटन की मदद से लगाये। आपको आराम मिलेगा। इसके अलावा आप तुलसी के पत्ते को हाथों से मसलकर खुजली वाली त्वचा पर लगाये। कुछ देर छोड़ने के बाद गुनगुने पानी से धो ले।

 Home Remedies for Itching in Hindi / Urdu – नारियल तेल और कपूर के इस्तेमाल से खुजली (Itching) को दूर किया जा सकता है। नारियल के तेल में कपूर मिला ले। अब उसे खुजली / Khujli वाली त्वचा पर लगाये। यह त्वचा को ठंडक देता है और संक्रमण को ठीक करता है। कभी-कभी रूखापन के कारण खुजली होने लगती है। नारियल का तेल एक बेहतरीन एंटीबेक्टेरिअल आयल है।

 Home Remedies for Itching in Hindi – नीम में एंटी-बेक्टेरिअल गुण पाए जाते है। नीम त्वचा सम्बंधित रोगों के लिए रामबाण ईलाज है। सबसे पहले नीम की कुछ पत्तियों को तोड़ कर पानी में डाल दे। लगभग 8 घंटो के लिए पानी में छोड़ दे। अब पत्तियों को पीसकर उसका पेस्ट बना ले। अब आप खुजली / Khujli वाली त्वचा पर पेस्ट लगाकर लगभग 20 मिनट तक के लिए छोड़ दे। उसके बाद साफ़ पानी से धो ले। आपको लाभ मिलेगा।

 Home Remedies for Itching in Hindi / Urdu – अजवाइन के फुल की मदद से Khujli को दूर कर सकते है। सबसे पहले दो कप पानी ले और उसमे अजवाइन के फुल को डालकर उबाले। फिर इसे ठंडा होने के लिए कुछ देर छोड़ दे। अब इसे छान ले और कॉटन की मदद से खुजली वाले स्किन पर लगाये। ऐसा करने से आपको खुजली से रहत मिलेगी।



 Home Remedies for Itching in Hindi – मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग से इचिंग को ठीक किया जा सकता है। थोड़ी सी मुल्तानी मिट्टी ले और उसमे गुलाब जल मिलाकर पेस्ट तैयार कर ले। अब जहाँ पर Khujli हो रही है, उस जगह पर पेस्ट को लगाये। आपको अवश्य लाभ मिलेगा।

 Home Remedies for Itching in Hindi / Urdu – टमाटर भी उपयोगी है, खुजली को दूर करने में। प्रतिदिन सुबह और शाम को टमाटर का जूस सेवन करे। ऐसा करने से आपकी Khujli की समस्या दूर होगी।

Khujli or Itching ka Ayurvedi Upchar – खुजली का आयुर्वेदिक उपचार

खुजली होने पर इन प्राथमिक और जरुरी बातों का ध्यान रखना चाहिए।

loading…
  1. अपने शरीर की साफ़ सफाई का विशेष रूप से ख्याल रखे। और साफ़ सुथरे कपडे पहने।
  2. साबुन का इस्तेमाल न के बराबर करे। कॉस्मेटिक चीजे लगाने से बचे।
  3. त्वचा में जब भी खुजली हो तो हाथ से ना खुजाये। कोई मुलायम कपडे का इस्तेमाल करे।
  4. इचिंग होने पर साफ़ सफाई का पूरी तरह से ध्यान रखे।
  5. ठण्ड के मौसम में नहाने से पहले सरसों या तिल के तेल मालिश करे।
  6. खुजली वाली स्किन या त्वचा खरोचे नहीं।

यह भी पढ़े :-

|धन्यवाद|

  • Facebook
  • Twitter
  • Google+
  • Linkedin
  • Pinterest

error: Content is protected !!