Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views : Ad Clicks :Ad Views :
Home / Ayurvedic Treatment / मुंह के छाले की दवा | Home Remedies for Mouth Ulcers – Ayurvedic Treatment

मुंह के छाले की दवा | Home Remedies for Mouth Ulcers – Ayurvedic Treatment

/
/
/
238 Views

Home Remedies for Mouth Ulcers | मुंह के छाले की दवा – Ayurvedic Treatment

मुंह के छाले की दवा | Mouth Ulcer in Hindi  – मुंह का छाला मुंह के अन्दर होने वाला “घाव” है। मुंह के छाले का होना एक आम बात है। ये किसी भी उम्र के व्यक्ति को, किसी भी समय हो सकता है। मुंह के अंदर होने वाले छाले दो तरह से होते है – (1). मुंह में (यानि मुंह अन्दर गालो में) और  (2). जीभ में  यह एक प्रकार का घाव (जख्म) है। यह दिखने में सफ़ेद रंग का होता है, और उसके चारो और लाल-लाल दिखता है।

Home Remedies for Mouth Ulcers – जब मुंह में छाला / Mouth Ulcers हो जाता है तो भोजन करने में बहुत ही दिक्कत होती है। इतनी परेशानी होती है की हम कुछ खा भी नहीं सकते। ये घाव अन्दर और बाहर दोनों जगह हो सकते है।

मुंह के अन्दर जो छाले होते है उन्हें “एफथस अलसर” कहा जाता है।

जो छाले होंटो आदि पर होता है उन्हें “कोल्ड सोर्स” कहा जाता है। Mouth Ulcers कहने का तो छोटा घाव है, लेकिन बहुत ही पीड़ादायक होता है। और ये घाव ज्यादा ही संक्रामक होते है। मुंह के छाले की दवा, Ayurveda में बताई गयी है। जिसके बारे में हम आगे जानेंगे।

मुंह के छाले की दवा

मुंह के छाले दो प्रकार के होते है।

  • मेजर अलसर
  • माइनर अलसर

What Causes Mouth Ulcers in Hindi | मुंह के छाले होने के कारन

    1. अत्यधिक तेल मसाले और लाल मिर्च का प्रयोग करना “मुंह के छाले का एक कारण” है।
    2. धुम्रपान करना (वैसे धुम्रपान किसी भी हिसाब से सही नहीं है इसलिए धुम्रपान पूरी तरह से छोड़ देना चाहिए)।
    3. मानसिक तनाव के कारन भी Mouth Ulcers की समस्या होती है।
    4. खुद के दांतों से भी कट जाता है तो छाले पड़ जाते है (जल्दी-जल्दी भोजन करने से दांतों से कट जाता है)।
    5. ये चूमने के कारन भी हो सकता है (एक व्यक्ति को अगर माउथ अलसर है और वो दुसरे व्यक्ति को चूमता है तो इससे भी हो सकता है)।
    6. अगर पाचनतंत्र के ख़राब (गड़बड़) होने से भी होता है।
    7. ज्यादा खट्टी चीजों के खाने से भी होता है।
    8. मुंह के छाले / Mouth Ulcers अनुवांशिक भी हो सकते है।
    9. विटामिन B की कमी के कारन भी होता है।
    10. तम्बाकू चबाने से।
    11. कब्ज के कारन भी मुंह के छाले भी होते है।

मुंह के छाले की दवा | Home Remedies for Mouth Ulcers – Ayurvedic Treatment

    • आप ठंडे और गरम पानी का इस्तेमाल कुल्ला करने के लिए बारी-बारी कर सकते है।
    • कत्था एक बेहतरीन “मुंह के छाले की दवा” है। जी हाँ वही कत्था जो पान में लगाया जाता है, आप उसका इस्तेमाल कर सकते है।
    • शहद और सुहागा को बराबर मात्रा में मिला कर छाले पर लगाये, इससे आपको Mouth Ulcers से लाभ मिलेगा।
    • छाले पर आप सफ़ेद मक्खन और देसी घी को लगा सकते है।
    • Home Remedies for Mouth Ulcers – अलसी के दानो को आप चबा सकते है आपको आराम मिलेगा।
    • छाले में नीम का प्रयोग भी आप कर सकते है, ऐसा करने से आपके मुंह के छाले ठीक हो जायेंगे।
    • शुद्ध नारियल का तेल आप छाले के उपर लगा सकते है।
    • दही और अचार का उपयोग करना बंद कर दे।
    • तम्बाकू खाना पूरी तरह से छोड़ दे।

मुंह के छाले की दवा | Home Remedies for Mouth Ulcers – Ayurvedic Treatment

    • इलाइची में शहद को मिला ले और उसका पेस्ट छाले पर लगाये इससे आपको फायेदा होगा।
    • छाले पर आप धनिया का निचोड़ा हुआ रस लगाये।
    • अमरुद के पत्ते का रस भी आप छाले पर लगा सकते है।
    • नारियल पानी पिये (चुकी नारियल पानी पेट को ठंडा रखता है)।
    • “मुंह के छाले की दवा” चमेली है। चमेली के फुल का रस आप छाले पर लगा सकते है।
    • करेला भी इस रोग में फायदा करता है आप करेले के रस से कुल्ला करे।
    • गुनगुने पानी में नीबू का रस निचोड़ कर कुल्ला करे आपको लाभ मिलेगा।
    • तुमरू के बीज को महीन पिस ले और अपने छालो पर लगाये आप इसका इस्तेमाल दिन में तिन बार कर सकते है।
    • Home Remedies for Mouth Ulcers – अमृतधारा (अमृतधारा मतलब आप अजवाईन +कपूर + पेपरमिंट तीनो को एक बोतल में मिलकर धुप में रख दे) को शहद में मिला कर छाले पर लगाये।
    • टमाटर भी एक अच्छा विकल्प है चुकी टमाटर में एंटीऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते है इससे छाले में आपको लाभ मिलेगा।

Home Remedies for Mouth Ulcers | मुंह के छाले की दवा – Ayurvedic Treatment

    • शक्कर और कपूर मिला कर पेस्ट बना ले पेस्ट को थोड़ी देर छाले पर लगाये और फिर हटा ले।
    • आप छाले का दर्द कम करने के लिए सोडा का प्रयोग कर सकते है। यह एक उत्तम “मुंह के छाले की दवा” है।
    • एलोवेरा के पत्ते का जेल भी आपको छाले में राहत दिलाएगा।
    • मैथी के पत्ता एक कप और दो कप पानी डालकर गरम करे फिर पानी को छान कर उससे कुल्ला करे आपको बहुत ही फायदा होगा।

एक निवेदन – इस ब्लॉग में दिए गए लेख को, लोगो के अनुभव के आधार पर तैयार किया गया है। किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। ऊपर बताये गए “मुंह के छाले की दवा” को अपने विवेक के आधार पर इस्तेमाल करें। कोई असुविधा होने पर इस ब्लॉग Hindi Ayurveda की कोई भी जिम्मेदारी नहीं होगी।

|धन्यवाद|

  • Facebook
  • Twitter
  • Google+
  • Linkedin
  • Pinterest
  • stumbleupon
  • Reddit

1 Comments

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!