Ad Clicks :Ad Views :

    Menstrual Cup in Hindi | मेंस्ट्रूअल कप – Sex Education

    /
    /
    /
    243 Views
    loading...

    Sex Education | मेंस्ट्रूअल कप की जानकारी हिंदी में | Menstrual Cup in Hindi

    Menstrual Cup in Hindi | मेंस्ट्रूअल कप :- परिवर्तन ही संसार का नियम है। बदलते ज़माने के साथ टेक्नोलॉजी भी बदलती रहती है। आज इस लेख में मेंस्ट्रूअल कप / Menstrual Cup के बारे में जानेंगे। जिसने सेनेटरी नैपकिन्स की जगह ले ली है। हालाँकि अभी भी सेनेटरी नैपकिन्स का इस्तेमाल ज्यादा हो रहा है। लेकिन आने वाले दिनों में लोग इसे भूल जायेंगे। क्यूंकि आने वाले समय में Menstrual Cup” इसकी जगह ले लेगा।

    मेंस्ट्रूअल कप / Menstrual Cup मेडिकल-ग्रेड सिलिकॉन से बने होते है। इसका साइज़ बेल की तरह होता है। जो काफी लचीला (Flexible) होता है। और बिना परेशानी के इसे योनी में इन्सर्ट किया जा सकता है। दिया मिर्जा, जो UN की एनवायरनमेंट गुडविल एम्बेसडर है। उन्होंने हाल में अभी बताया की वे सेनेटरी नैपकिन्स का प्रयोग नहीं करती है। आपको बता दें की सेनेटरी नैपकिन्स Environment Friendly नहीं है। इससे पर्यावरण को नुकसान पहुँचता है। दिया मिर्जा ने बताया की वह बायोडिग्रेडेबल नैपकिन्स का प्रयोग करती है। जो 100% एनवायरनमेंट फ्रेंडली होता है।

    Menstrual Cup | मेंस्ट्रूअल कप – Sex Education in Hindi

    Menstrual Cup in Hindi | मेंस्ट्रूअल कप | Sex Education

    लोगो के मन में नए उत्पाद को लेकर कई सवाल होते है। इस लेख के माध्यम से आज उन्ही सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे। तो चलिए जानते है Menstrual Cup in Hindi के बारे में।

    Menstrual Cup in Hindi – मेंस्ट्रूअल कप से क्या फायदा होगा

    सेनेटरी नैपकिन्स की वजह से लंबे वक़्त तक खून / Blood आपके योनी के आस-पास लगा रहता है। जबकि Menstrual Cup में ऐसा नहीं होता है। क्यूंकि मेंस्ट्रूअल कप में खून जमा होते रहता है। जिससे आपको TSS यानी टोक्सिन शॉक सिंड्रोम की समस्या नहीं होगी। TSS एक रेयर बैक्टिरियल रोग है। अगर आप लम्बे वक़्त तक गीले नैपकिन और टैम्पॉन का प्रयोग कर रहे है। तो यह बीमारी आपको हो सकती है।

    मेंस्ट्रूअल कप को इस्तेमाल कैसे करना है – Menstrual Cup Uses

    Menstrual Cup को इस्तेमाल करने के लिए उसे साबुन धो लीजिये। फिर उसे गर्म पानी में 10 से 15 के लिए डालकर Sterilize यानी कीटाणुरहित कर लीजिये। इसके साथ-साथ आपके हाथ भी साफ़-सुथरे होने चाहिए। मेंस्ट्रूअल कप को बिच से दबाकर सी-शेप में मोड़ लीजिये। मोड़ने के बाद उसे योनी में इन्सर्ट कर लीजिये। अंदर घुसते ही यह अपने वास्तविक रूप में आ जाता है और योनी की दीवरों से लग जाता है। आपको ऐसा महसूस हो की मेंस्ट्रूअल कप अंदर जाकर पूरी तरह से खुला नहीं है। तो उसे थोड़ा सा घुमा लीजिये।

    मेंस्ट्रूअल कप के फायदे – Benefits of Menstrual Cup

    Menstrual Cup in Hindi | मेंस्ट्रूअल कप | Sex Education

    • Sex Education in Hindi
    • यह वेजिनल हेल्थ के लिए अच्छा होता है।
    • इसे आप बार-बार इस्तेमाल कर सकते है।
    • यह पर्यावरण को हानि नहीं पहुंचाता है।
    • इस कप को घंटो लगाकर रहा जा सकता है।
    • इस कप केमिकल्स अवयव नहीं होते है।
    • इससे संक्रमण (Infection) होने का खतरा ना के बराबर होता है।
    • किसी भी उम्र की लड़की इस कप का प्रयोग कर सकती है।
    • लगभग 4 से 5 वर्ष तक इस कप का इस्तेमाल किया जा सकता है।

    NOTE :- प्रत्येक इस्तेमाल के बाद मेंस्ट्रूअल कप को सैनिटाइज (गर्म पानी से अच्छे से साफ़) करना जरुरी है।

    Menstrual Cup in Hindi | मेंस्ट्रूअल कप की जानकारी आपको कैसी लगी हमे कमेंट करके अवश्य बताये। ऐसे ही मजेदार Sex Education की जानकारी पाने के लिए हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करें। इस लेख को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे। निचे दिए गए बटन को दबाकर अपने ट्वीटर, फेसबुक और गूगल प्लस अकाउंट पर शेयर करे।

    [धन्यवाद]

    Summary
    Menstrual Cup in Hindi | मेंस्ट्रूअल कप - Sex Education
    Article Name
    Menstrual Cup in Hindi | मेंस्ट्रूअल कप - Sex Education
    Description
    Menstrual Cup in Hindi | मेंस्ट्रूअल कप से क्या फायदा होगा और इसका उपयोग कैसे कर सकते है। यह वेजिनल हेल्थ के लिए अच्छा होता है। Sex education in Hindi.
    Author
    Publisher Name
    Hindi Ayurveda
    Publisher Logo
    • Facebook
    • Twitter
    • Google+
    • Linkedin
    • Pinterest

    Leave a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    This div height required for enabling the sticky sidebar