Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views :
Home / Health / Uric Acid in Hindi | यूरिक एसिड | Ayurveda in Hindi

Uric Acid in Hindi | यूरिक एसिड | Ayurveda in Hindi

/
/
/
604 Views

Uric Acid in Hindi | यूरिक एसिड | Ayurveda in Hindi

आज इस लेख में यूरिक एसिड के बारे में वृस्तारपूर्वक जानेंगे। हाल के समय में यूरिक एसिड की समस्या काफी ज्यादा बढ़ी है। जब “Uric Acid” बढ़ जाती है तो यह जोड़ों में जमा होने लगती है। जिस कारण जोड़ों में दर्द की समस्या होने लगती है। अगर आपके घुटने, एडियों या पैर की ऊँगली इत्यादि में दर्द होता है, तो ऐसा होने की एक वजह यूरिक एसिड का बढ़ना भी है।

 

यूरिक एसिड क्या है – Uric Acid in Hindi



uric acid in hindi

Uric Acid in Hindi – किडनी की फ़िल्टर करने की क्षमता जब किसी कारण कम होने लगती है। तो यह यूरिया, यूरिक एसिड में परिवर्तित होने लगती है। यही यूरिक एसिड हड्डियों के बीच में जमा होने लगती है। यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने के कारन शरीर की मस्पेशियों में सुजन आने लगती है। जिससे आपको दर्द का अनुभव होने लगता है। शरीर के किसी भी हिस्से में यह दर्द हो सकता है। खासकर कमर, घुटना, टखना और गर्दन इत्यादि। यही बाद में जाकर गठिया, अर्थराइटिस और गाउट जैसी गंभीर समस्या होने लगती है।

इसे भी अवश्य पढ़े :- कमर दर्द का घरेलु उपचार की जानकारी हिंदी में।
यह भी अवश्य पढ़े :- गठिया रोग का घरेलु इलाज की जानकारी हिंदी में।

Uric Acid Causes in Hindi

यूरिक एसिड बढ़ने के विभिन्न कारण होते है। तो चलिए उन कारणों पर नजर डालते है।

  • Uric Acid in Hindi यूरिक एसिड इन चीजों के ज्यादा सेवन से भी बढ़ता है। जैसे – सी फूड्स, मशरूम, चावल, भिंडी, टमाटर, पनीर, राजमा, रेड मीट, दाल, अरबी, मटर और गोभी इत्यादि।
  • आज के समय का लाइफस्टाइल और खान-पान, यह सबसे बढ़े कारणों में से एक है।
  • उपवास रखने वाले लोगों में अस्थायी रूप से Uric Acid का Level बढ़ जाता है।
  • पेन किलर, कैंसर और ब्लड प्रेशर इत्यादि की दवा लेने वाले मरीज में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ जाता है।
  • मधुमेह रोगियों के शरीर में यूरिक एसिड बढ़ जाता है।
  • जो लोग जबरदस्ती में व्यायाम करते है या फिर वे लोग जो अपना वजन कम करना चाहते है। उन लोगो में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ जाता है।
  • प्युरिन प्रोटीन की वजह से भी यूरिक एसिड का स्तर (Level) बढ़ जाता है।

हमारे खाने के चीजों और सेल्स से यूरिक एसिड / Uric Acid बनता है।

यूरिक एसिड के लक्षण – Uric Acid in Hindi

  • एडियों में दर्द का बना रहना।
  • शर्करा के स्तर का बढ़ जाना।
  • जोड़ों में दर्द का होना।
  • गांठों में सुजन का होना।
  • उठने और बैठने में तकलीफ होना।
  • उँगलियों में सुजन का होना।

उम्मीद है “Uric Acid in Hindi” लेख आपको उपयोगी लगा होगा। प्लीज इस लेख को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे। निचे दिए गए बटन को दबाकर अपने ट्वीटर, फेसबुक और गूगल प्लस अकाउंट पर शेयर करे।

इसे भी अवश्य पढ़े :- Current News in Hindi

|धन्यवाद|

  • Facebook
  • Twitter
  • Google+
  • Linkedin
  • Pinterest
  • stumbleupon
  • Reddit

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This div height required for enabling the sticky sidebar
error: Content is protected !!